बहुत कुछ खोकर क्या पाया हमने

Ginnithinks

साल 2020 एक विशेष वर्ष के तौर पर जाना जाएगा। इतिहास के पन्नों में इस वर्ष में अपना नाम अंकित कर लिया है। जैसा कि आजकल का चलन है किसी भी तरह से आपकी ख्याति होनी चाहिए चाहे वह कुछ बुरा करके ही क्यों ना हुई हो। प्रसिद्धि होनी चाहिए चाहे वह बदनाम होकर ही क्यों ना मिले। शायद इस बात को वर्ष 2020 में गंभीरता से ले लिया और ले आया ऐसी महामारी कोरोना से कोई पार न पाया।

इसने पूरा विश्व हिला कर रख दिया। सब कुछ शेर हो गया कुछ समय के लिए। सबके लिए ही वह वक्त अकल्पनीय था। ऐसा कभी नहीं हुआ था कि एक साथ पूरी दुनिया थम जाए। अपने घरों में खुद को कैद कर ले। एक साथ सबके समक्ष लगभग एक सी ही समस्या थी। सेहत पर तो इस महामारी ने चोट की ही थी लेकिन अर्थव्यवस्था की तो कमर ही तोड़…

View original post 863 more words